बिहार : सीएए का विरोध थमा नहीं था कि इसके विरोध में बोलने बाले ने एक नया हंगामा खड़ा कर दिया है जी हां AIMIM के प्रवक्ता वारिस पठान ने बीते दिनों सीएए के खिलाफ आयोजित सभा में विवादित बोल बोल दिये थे। इस पर बिहार मुजफ्फरपुर जिले के नगर थाना क्षेत्र के कंपनी बाग रोड में सामाजिक संगठन हक-ए-हिंदुस्तान मोर्चा के सदस्यों ने वारिस पठान के बयान का जमकर विरोध किया और पठान को देशद्रोही तक बता दिया है। इस मौके पर हक-ए-हिंदुस्तान मोर्चा के राष्ट्रीय संयोजक तमन्ना हाशमी ने कहा कि वारिस पठान की भाषा पाकिस्तान की भाषा है, ये देशद्रोहियों की भाषा है और हम अपने मोर्चा की तरफ से यह ऐलान करते हैं कि ऐसे लोगों का सिर कलम कर दिया जाए. हाशमी ने यह भी कहा कि जो व्यक्ति वारिस पठान का सिर कलम करके लाएगा, उसे हमारे मोर्चे की तरफ से 11 लाख रुपए इनाम दिया जाएगा।
बता दें कि AIMIM के नेता वारिस पठान ने 15 फरवरी को कर्नाटक के गुलबर्गा में नागरिकता संशोधन कानून के खिलाफ रैली में कहा था, ‘वे कहते हैं कि हमने महिलाओं को आगे कर दिया है, लेकिन ध्‍यान रखना कि अभी तक केवल शेरनियां ही बाहर आई हैं और आप पसीना बहा रहे हैं. इससे आप समझ सकते हैं कि अगर हम सभी बाहर निकल आए तो क्‍या होगा. हम 15 करोड़ हैं लेकिन 100 करोड़ के ऊपर भारी हैं. ये याद रख लेना.’
Share To:

Post A Comment: