• सिर के ऊपर से निकल गई गोली, छुरा लगने से दो अंगुली कटी
  • ग्रामीणों ने पिस्तौल समेत छात्र को दबोच पुलिस को सौंपा
  • मसौढ़ी. मलमाचक रेलवे पुल के पास सोमवार की सुबह 12वीं के एक छात्र ने अपनी स्कूटी से जहानाबाद जा रहे एक काेचिंग के शिक्षक पर फायरिंग की। हालांकि शिक्षक बाल-बाल बच गए। बाद में छात्र ने अपनी कमर से छुरा निकाल शिक्षक पर वार कर उन्हें लहूलुहान कर दिया। शिक्षक द्वारा शोर मचाने पर मौके पर पहुंचे ग्रामीणों ने आरोपी छात्र को पिस्तौल व धारदार हथियार के साथ दबोच लिया और पुलिस को सौंप दिया। पुलिस ने उसे बाद में जेल भेज दिया। वह शिक्षक द्वारा काेचिंग से उसे निकाले जाने से खफा था।
    कोचिंग से निकलते ही छात्र ने की फायरिंग
    मधुबनी जिले के झंझारपुर थाने के अलपुरा ग्रामवासी चिरंजीव झा के पुत्र शेखर कुमार झा मसौढ़ी थाने के रामनगर (सतीस्थान) निवासी उपेंद्र कुमार के मकान में किराए पर रहते हैं और सती स्थान में ही रोबोटिक्स क्लासेज के नाम से एक कोचिंग खोल रखी है। सोमवार की सुबह करीब 6 बजे वे जहानाबाद स्थित एक कोचिंग में क्लास लेने के लिए अपनी स्कूटी से निकले। इसी दौरान रास्ते में थाने के मलमाचक रेलवे पुल के पास घात लगाए छात्र पाली मोड़ निवासी बिरजू प्रसाद के पुत्र प्रिंस राज उर्फ आर्यन राज उर्फ छोटू ने उनपर पिस्तौल से फायरिंग कर दी। हालांकि शिक्षक के सिर झुका लेने के कारण गोली उनके सिर के ऊपर से निकल गई और वे बाल-बाल बच गए व स्कूटी छोड़कर भागने लगे। लेकिन, यह देख आरोपी छात्र ने अपनी कमर से धारदार छुरा निकाल उनपर वार कर लहूलुहान कर दिया और उनकी दो अंगुली कट गई। शिक्षक द्वारा शोर मचाने पर पहुंचे ग्रामीणों ने आरोपी को पिस्तौल व छुरा के साथ दबोच लिया और जमकर उसकी पिटाई करने के बाद उसे पुलिस को सौंप दिया। इस संबंध में शिक्षक ने उसके खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है।
    आधे घंटे तक गुत्थमगुत्थी  
    आरोपी छात्र प्रिंस राज द्वारा छुरा से किए गए हमले से बचने के लिए शिक्षक शेखर कुमार झा उससे भिड़ते रहे और शोर भी मचाते रहे। करीब आधे घंटे तक दोनों के बीच यह चलता रहा। लेकिन, हल्ला करने के बावजूद बचाव में करीब आधे घंटे तक कोई नहीं पहुंच सका और बचाव करते-करते वे लहूलुहान हो गए।
    कोचिंग से निकाल देने से खफा था छेड़खानी का आरोपी छात्र
    शिक्षक शेखर कुमार झा ने बताया कि आरोपित छात्र प्रिंस राज उनकी कोचिंग में 12वीं का छात्र था। कोचिंग की छात्राओं के साथ अक्सर छेड़खानी करने की शिकायतें उसके खिलाफ मिल रही थीं। इस कारण करीब एक माह पहले उसे कोचिंग से निकाल दिया गया था। इसके बाद वह उन्हें अक्सर धमकी दिया करता था।

Share To:

Post A Comment: