• मुजफ्फरपुर में लीची का 'स्टेट ऑफ द आर्ट' बाग लगेगा
  • किसानों के प्रशिक्षण, आधुनिक तकनीक के लिए कोको कोला 170 करोड़ निवेश करेगा
  • पटना. कृषि मंत्री डॉ. प्रेम कुमार ने कहा कि मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर व वैशाली में लीची उत्पादन और उत्पादकता बढ़ाने के लिए 3000 एकड़ के पुराने लीची बागानों को जीर्णोद्धार होगा। उन्नति लीची कार्यक्रम के तहत मुजफ्फरपुर में लीची का 'स्टेट ऑफ द आर्ट' बाग लगाया जाएगा। इन जिलों के 80 हजार लीची उत्पादक किसानों को इसका लाभ मिलेगा। राज्य में लीची से जुड़े प्रोसेसिंग यूनिट भी लगेंगे। उन्नति लीची कार्यक्रम में कोको कोला (इंडिया) 170 करोड़ निवेदश करेगा। गुरुवार को कृषि मंत्री कोको कोला देहात व राष्ट्रीय लीची अनुसंधान केंद्र द्वारा आयोजित कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे।
    मंत्री ने कहा कि राज्य में कई विशिष्ट फसल हैं, जो सिर्फ बिहार में ही बहुतायत में पाये जाते हें। इसमें शाही लीची, जर्दालु आम, मगही पान, कतरनी धान, मखाना आदि शामिल हैं। हाल में ही सरकार के प्रयास से शाही लीची, जर्दालु आम, मगही पान और कतरनी धान को जीआई टैंग मिला है। इससे इसके उत्पादों को अंतरराष्ट्रीय ख्याति मिली है। किसानों को अधिक मूल्य दिलाने के लिए लगातार प्रयास किए जा रहे हैं। उन्नति लीची के तहत 80 हजार लीची उत्पादक किसानों को आधुनिक तकनीक से खेती का प्रशिक्षण दिया जाएगा। नयी तकनीक से लीची के नये बाग लगाये जाएंगे। स्टेट ऑफ द आर्ट बाग में आधुनिक तकनीक प्रत्यक्षण एवं प्रशिक्षण दिया जाएगा।
  • by shubhanshu (mtvnews.in)
Share To:

Post A Comment: