बेगूसराय। चेरियाबरियारपुर थाना क्षेत्र के बसौंना मोड़ के समीप लूट के दौरान की गई दो अलग-अलग मामलों के अंतिम अप्राथमिक अभियुक्त कमला निवासी अखिलेश झा के पुत्र ऋषिकेश झा को पुलिस ने

बेगूसराय। चेरियाबरियारपुर थाना क्षेत्र के बसौंना मोड़ के समीप लूट के दौरान की गई दो अलग-अलग मामलों के अंतिम अप्राथमिक अभियुक्त कमला निवासी अखिलेश झा के पुत्र ऋषिकेश झा को पुलिस ने मुफस्सिल थाना क्षेत्र के रजौड़ा से गिरफ्तार करने में सफलता पाई है। बीते 28 मार्च 2019 को रौशन सहनी की हत्या की गई थी, वहीं 14 अप्रैल 2019 को मो. फारूख का शव बरामद किया गया था। दोनों हत्या से संबंधित कांड संख्या 42/19 व 51 /19 दर्ज है। कांड के अनुसंधान के दौरान पांच अपराधियों द्वारा लूट का विरोध करने पर हत्या किए जाने की बात सामने आई थी। जिसके बाद अनुराग कुमार, राज खां उर्फ गुडडू, लक्षमण पासवान, गणेश पासवान व ऋषिकेश झा को अप्राथमिकी अभियुक्त बनाया गया था।
गुरुवार को मुख्यालय डीएसपी कुंदन कुमार ने अपने कार्यालय प्रकोष्ठ में आयोजित प्रेस वार्ता के दौरान उक्त जानकारी देते हुए बताया कि दोहरे हत्या के खुलासे व आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए मंझौल अंचल निरीक्षक विभा कुमारी के नेतृत्व में टीम का गठन किया गया था। टीम ने तकनीकी अनुसंधान व गुप्त सूचना के आधार पर 17 अप्रैल 2019 को लक्ष्मण पासवान व गणेश पासवान को गिरफ्तार कर जेल भेजा गया। वहीं 19 मई 2019 को अनुराग कुमार व राज खां उर्फ गुड्डु को दबोचा गया जिसने अपनी स्वीकारोक्ति बयान में दोनों हत्या में शामिल अपराधियों के नामों को खुलासा किया था।
रजौड़ा में देखे जाने की गुप्त सूचना:
बीते 11 माह से पुलिस को चकमा देकर फरार रहे मामले के अंतिम अप्राथमिकी अभियुक्त के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के रजौड़ा में देखे जाने की गुप्त सूचना मिली थी। गुप्त सूचना के आधार पर मंझौल अंचल निरीक्षक के नेतृत्व में पुलिस टीम ने चिन्हित ठिकाने की घेराबंदी कर उसे दबोच लिया है। छापेमारी टीम में चेरियाबरियारपुर थानाध्यक्ष नीरज कुमार, पुअनि रामवरण प्रसाद, व बीएसमपी के सशस्त्र जवान शामिल रहे।
by shubhanshu (mtvnews.in)
Share To:

Post A Comment: