गाजियाबाद के मौलाना आजाद कॉलोनी में आधा दर्जन बदमाशों ने सलीम नाम के युवक को गोलियों से भून डाला. गोलियों की तड़तड़ाहट सुनकर आसपास के लोग पहुंचे, तब तक बदमाश मौके से फरार हो गया था. बताया जा रहा है कि बहन के साथ छेड़छाड़ का विरोध करने के कारण ही उसकी हत्या कर दी गई.

  • उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद के मौलाना आजाद कॉलोनी की घटना
  • पुलिस बता रही लेनदेन में हत्या की बात, खंगाल रही सीसीटीवी
    • राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली से गाजियाबाद में दिनदहाड़े गोली मारकर हत्या कर दिए जाने की घटना सामने आई है. परिजनों का दावा है कि बहन के साथ छेड़खानी का विरोध करने पर युवक और उसकी मां के साथ मारपीट की गई थी. मुकदमा दर्ज कराया था. अब छेड़खानी करने वालों ने ही युवक को गोली मारकर हत्या कर दी है.
      वहीं, घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस लेन-देन में हत्या की बात कह रही है. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया और तहकीकात शुरू कर दी. घटना शनिवार दोपहर की है.
      बताया जाता है कि गाजियाबाद के लोनी बॉर्डर थाना क्षेत्र की मौलाना आजाद कॉलोनी में लगभग आधा दर्जन बदमाशों ने लोनी के बेहटा निवासी सलीम को गोलियों से भून डाला. गोलियों की तड़तड़ाहट सुनकर आस-पास के लोग मौके पर दौड़कर पहुंचे, लेकिन तब तक बदमाश फरार हो गए.
      आसपास के लोग इस घटना की सूचना तत्काल पुलिस को दी. सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया. पुलिस आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगाल हमलावरों की पहचान करने में जुटी हुई है.
      इस संबंध में गाजियाबाद के पुलिस अधीक्षक (एसपी) देहात नीरज कुमार जादौन ने बताया, पुलिस हमलावरों की पहचान करने के लिए सीसीटीवी फुटेज का सहारा ले रही है. उन्होंने बताया कि सलीम अपने परिवार के साथ मौलाना आजाद कॉलोनी में रहता था. वह मूल रूप से गंज का रहने वाला था. एसपी देहात ने कहा कि शुरुआती जांच में सलीम का पड़ोस में ही रहने वाले कुछ लोगों के साथ पैसों के लेन-देन को लेकर विवाद चल रहे होने की बात सामने आई है. उन्होंने कहा कि मृतक के परिजनों के अनुसार हमलावर करीब 5-6 लोग थे. हमलावरों की ओर से 6 राउंड फायरिंग की गई थी.
      एसपी देहात ने बताया कि सलीम को सिर में गोली लगने से मौके पर ही मौत हो गई. उन्होंने कहा कि मामले की गहनता से जांच की जा रही है. जल्दी मामले का खुलासा करते हुए हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा. बताया जाता है कि कुछ हमलावर बाइक से और कुछ पैदल आए. घटना की सूचना मिलते ही सलीम के परिजन वहां पहुंचे और रोने-बिलखने लगे. साथ ही स्थानीय लोगों की भारी भीड़ वहां जुट गई. मृतक की बहन ने आरोप लगाया कि बीती 10 जनवरी को पास के ही रहने वाले शफीक के बेटे ने उसके साथ छेड़छाड़ की थी.
      मृतक की बहन ने कहा कि इस घटना का विरोध करने पर उसके और उनकी मां सबीना के साथ मारपीट की गई. परिजनों का दावा है कि इस मामले में पुलिस को शिकायत दी गई थी. आरोप है कि आला अधिकारियों से शिकायत के बाद पुलिस ने मुकदमा तो दर्ज कर लिया, लेकिन पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कोई ठोस कारवाई नहीं की.
      आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें. डाउन
Share To:

Post A Comment: