बेगूसराय : थाना में शिकायत करने गये आम आदमी को थप्पड़ मारना और गाली गलौज करना कितना महंगा परता है ये बात बेगूसराय जिला के परिहारा ओपी के तत्कालीन प्रभारी से अच्छा कौन जान सकता है, दरअसल बात यह है कि 28 मार्च 2019 की घटना का सूचना देने गये परिहारा ओपी क्षेत्र के निवासी अरुण कुमार चौधरी के साथ तत्कालीन थानेदार सुनील कुमार ने कानून को अपने हाथ मे लेते हुए अरुण चौधरी को गाली गलौज एवम लप्पड़ थप्पड़ कर दिये इस घटना का वीडियो वायरल हो गया तब अदालत ने मामला पर संज्ञान लेते हुए आरोपी थानेदार को जमानती वारंट के साथ अदालत में हाज़िर होने कहा गया था।
लेकिन कानून को हाथ मे लेने बाले दरोगा जी को ये मजाक लगा और अदालत नहीं पहुँचे लेकिन कहा जाता है भारत के कोर्ट में देर है अंधेर नहीं उसका ताजा प्रमाण बेगूसराय के प्रथम श्रेणी के न्यायिक आदेश से बुधवार को फिर साबित हो गया। दंडाधिकारी अफजल इमाम ने अदालती आदेश के अनुपालन में दरोगा जी पर गैर जमानती वारंट जारी कर दिया है।
इस प्रकार के अदालती फैसले से आम आदमी का कानून में विश्वास बढ़ेगा,आम आदमी को अपने अधिकारों को समझना चाहिये कि आम आदमी के अधिकारों को कोई भी अधिकारी दबा नहीं सकता।
By Shubhanshu (mtvnewsbihar)

Share To:

Post A Comment: