मुजफ्फरपुर-मोतिहारी रेलखंड पर कांटी स्टेशन से एक किलोमीटर पश्चिम रामपुर में रेल ट्रैक पर करीब 20 वर्षीय एक अज्ञात युवती की लाश मंगलवार सुबह मिली। शव मिलने की खबर से इलाके में सनसनी फैल गई। मृतका के शरीर पर कपड़े नहीं थे। शरीर पर चाकू से गोदने के जख्म मिले हैं। पुलिस गैंगरेप के बाद हत्या की आशंका जता रही है। सुबह जानकारी मिलने पर कांटी थानाध्यक्ष कुंदन कुमार व एसआई सच्चिदानंद सिंह पुलिसबल के साथ मौके पर पहुंचे। बाद में रेल डीएसपी स्मिता सुमन व मुजफ्फरपुर जीआरपी थानाध्यक्ष नंदकिशोर सिंह भी घटनास्थल पर पहुंचकर तहकीकात की।
रेल पुलिस घटनास्थल के समीप रेल ट्रैक पर पड़ी एक लाल चप्पल व एक कपड़े के टुकड़े को जांच के लिए ले गई। बरामद चप्पल संभवत: मृतका की थी। पुलिस अधिकारियों ने प्रथम दृष्टया गैंगरेप के बाद हत्या की आशंका जताई है। कांटी थानाध्यक्ष ने बताया कि पोस्टमार्टम रिपोर्ट से विस्तृत जानकारी मिल पाएगी। आशंका है कि अहले सुबह ट्रैक पर लाश फेंकी गई है। ग्रामीणों ने बताया कि सुबह गैंगमैन ने शव पटरी के बीच देखा। उसके बाद शोरगुल कर अगल बगल के लोगों को बुलाया। फिर रेल परिचालन बाधित नहीं हो इसके लिए शव को ट्रैक से हटाकर बगल में रख दिया। लड़की का शव पड़े होने की खबर मिलने के बाद थोड़ी देर में ही वहां काफी संख्या में लोग जुट गए। घटना को लेकर स्थानीय लोगों में काफी रोष भी था।
युवती के शरीर पर कई जगह थे चोट के निशान:
लड़की का शव पूरी तरह नग्न अवस्था में था। बाद में लोगों ने जैकेट व गमछा से उसे ढंका। लड़की के सिर के पीछे का भाग बुरी तरह कुचला हुआ था। पेट में चाकू गोदा हुआ था। भौंह, बांह, पैर समेत शरीर पर जगह-जगह चोट के निशान थे। पैर भी टूटा हुआ था। ग्रामीणों ने आशंका जताई है कि सामूहिक दुष्कर्म के बाद हत्या कर शव को जानबूझकर रेल ट्रैक पर डाल दिया गया है। पूर्व मुखिया नंदकिशोर सिंह, अनयराज समेत तमाम लोगों ने घटना को बेहद घृणित बताया।
आसपास हो चुकी हैं कई हत्याएं:
जिस जगह से लड़की का शव बरामद किया गया उसके आसपास के इलाके में पहले भी हत्या की कई वारदात हो चुकी है। पिछले वर्ष भी एक पिकअप चालक की हत्या कर शव फेंक दिया गया था। सुनसान जगह होने के कारण अपराधी वहां घटना को अंजाम देते हैं।
एसकेएमसीएच में पोस्टमार्टम, धारदार हथियार के जख्म:
कांटी में रेलवे ट्रैक पर मिली युवती की लाश की मेडिकल टीम गठित कर पोस्टमार्टम की गई। टीम में डॉ. कौशल किशोर व शम्भुनाथ सिंह थे। फिलहाल शाम तक लाश की पहचान नहीं हो सकी थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सर फटा हुआ बताया गया है। एक हाथ व पैर भी टूटा हुआ था। पीठ व कमर के नीचे नुकीले धारधार हथियार के भी जख्म मिले हैं। वहीं रेप की पुष्टि के लिए सौंपल को पैथोलॉजिकल जांच में भेज दिया है। एफएमटी विभाग के डॉ. कौशल किशोर ने बताया कि पोस्टमार्टम में युवती के सिर, पीठ व कमर के नीचे जख्म मिले हैं।
BY SHUBHANSHU (MTVNEWS.IN)

Share To:

Post A Comment: