• 40 वर्षीय आसमा खातून की उसके रिश्तेदारों ने की, आरोप न लगे इसलिए फंदे पर लटकाया
  • आठ साल के बच्चे मुस्तफा ने मां के साथ मारपीट की सूचना खेत पर काम कर रहे पिता को दी
  • पलासी (अररिया). कनखुदिया वार्ड संख्या एक में जमीन के विवाद में शुक्रवार की सुबह 40 वर्षीय आसमा खातून की उसके रिश्तेदारों ने जमकर पिटाई कर दी। पिटाई से मौत हो गई। मौत का आरोप उन पर नहीं लगे, इसलिए आरोपियों ने महिला को उसके घर में ले जाकर गले में फंदा डालकर लटका दिया। ताकि लोग समझंे कि महिला ने फांसी लगा आत्महत्या कर ली, लेकिन आठ साल के बच्चे मुस्तफा ने अपनी मां के साथ मारपीट और फंदे से लटकाते देख लिया। उसने इसकी सूचना खेत में काम कर रहे अपने पिता को दी। महिला का पति सलाउद्दीन जब तक घर पहुंचा, तब तक उसकी पत्नी की मौत हो चुकी थी। पति ने पत्नी की हत्या करने के आरोप में पांच लोगों के विरुद्ध केस दर्ज कराया है, जिसमें उसका भाई कलीमउद्दीन, उसकी पत्नी बीबी फिरोजा, बेटा मुजफ्फर और सेहरुल को नामजद किया गया है। 
    मृतका के आठ साल के बेटे मुस्तफा ने खोला राज
    सलाउद्दीन ने बताया कि आवासीय जमीन को लेकर उनके भाइयों के साथ कई दिनों से विवाद चल रहा है। उनका भाई उनके हिस्से की जमीन पर भी घर बनाना चाहता है, लेकिन उसकी पत्नी इस बात का विरोध करती थी। पीड़ित पति का कहना है कि सुबह के साढ़े आठ बजे वह खेत में काम पर चले गए। उसके खेत पर जाने के बाद उसके भाई ने उसके हिस्से की जमीन पर भी निर्माण शुरू कर दिया।
Share To:

Post A Comment: