पिछले दिनों बेगूसराय के सांसद गिरिराज सिंह के द्वारा एसपी की फटकार लगाने वाली वीडियो के वायरल होने के बाद आज बेगूसराय के एसपी अवकाश कुमार ने इसका खंडन किया है ।
एसपी अवकाश कुमार के अनुसार सांसद गिरिराज सिंह के द्वारा सिर्फ विधि व्यवस्था से संबंधित सवाल पूछे गए थे जिनका एसपी के द्वारा जवाब दिया गया। लेकिन एसपी अवकाश कुमार ने बताया की खबरों को दूसरे ढंग से प्रस्तुत किया गया। सा
ही साथ अवकाश कुमार ने कुछ सवाल भी उठाए मसलन जिस तरह से हादसा या हत्या मामले में सांसद के द्वारा सवाल जवाब किया गया एवं पकड़े गए आरोपियों के जमानत की बात की गई इस मामले में एसपी अवकाश कुमार ने कहा भले ही मृतक के परिजन हत्या का आरोप लगा रहे थे लेकिन पोस्टमार्टम रिपोर्ट में यह साबित हो गया था फुलवरिया के रहने वाले प्रिंस कुमार की मौत सड़क हादसे में हुई थी और इन्हीं बातों को लेकर प्रिंस कुमार के परिजनों ने एसपी कार्यालय के समक्ष हंगामा किया तथा पुलिस के जवानों के साथ धक्का-मुक्की भी की थी ।
सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों को चिन्हित कर एफ आई आर किया गया और उन्हें हिरासत में लेकर कोर्ट में प्रस्तुत किया गया। लेकिन न्यायालय के द्वारा उन्हें जमानत दी गई । एसपी अवकाश कुमार ने कहा कि अगर यही वाकया न्यायालय के किसी कर्मी के साथ होता तो भी क्या न्यायालय इतनी तत्परता से उन्हे बेल दे देती ?
एसपी अवकाश कुमार ने एक और आरोप लगाते हुए कहा की एसपी या सांसद के अगल-बगल रहने वाले लोग खुद अपने आप को समकक्ष समझने लगते हैं और उन्हीं के द्वारा बरगलाने के बाद इस तरह के मामले सामने आते हैं ,जिससे बचने की आवश्यकता है ।
एसपी अवकाश कुमार ने कहा कि जहां तक मुझ पर अपराधियों को प्रश्रय देने का आरोप लगाया गया तो साक्ष्य के साथ बढ़िए पदाधिकारियों के समक्ष आरोप प्रस्तुत करने के बाद मैं किसी भी सजा को भुगतने के लिए तैयार हूं ।
By Shubhanshu (mtvnewsbihar

Share To:

Post A Comment: