पटना : सांसदों द्वारा गांव को गोद लेने के बाद अब जिले के एसपी एसएसपी भी गांव को गोद लेंगे हर जिले के एसपी एक गांव को गोद लेंगे इसको लेकर कोई पैमाना या मापदंड नहीं होगा एसपी अपनी इच्छा से किसी एक गांव का चयन करेंगे इसको लेकर पुलिस मुख्यालय ने विशेष दिशा निर्देश जारी किया है.
बता दें कि बिहार पुलिस के इतिहास में पहली बार ऐसा होगा जब कोई sp गांव को गोद लेगा. मकसद है बच्चों को खेलकूद और पढ़ाई के प्रति प्रोत्साहित करना और पुलिस को अपना दोस्त और मददगार समझना.
सांसदों द्वारा गोद लिए गांवव का नहीं हो सका विकास
बता दें कि PM नरेंद्र मोदी के शासनकाल में सांसदों के गांव को गोद लेने की योजना शुरू हुई. बिहार में भी सभी लोकसभा और राज्यसभा के सांसदों ने एक-एक गांव को गोद लिया. इनमें से अधिकांश गोद लिए गांव की स्थिति में कोई खास सुधार नहीं हुआ. शुरुआत के दिनों में तो सांसदों ने उक्त गांव पर ध्यान दिया लेकिन बाद में वहां जाना भी मुनासिब नहीं समझा. लिहाजा उक्त गांव की स्थिति भी कमोबेश पहले जैसी ही रही.

Share To:

Post A Comment: