बिहार में एक बार फिर जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और भाकपा नेता कन्हैया कुमार पर हमला करने की कोशिश की गई। इस बार घटनास्थल लखीसराय जिला बना। दरअसल लखीसराय के गांधी मैदान में सीएए के खिलाफ कन्हैया की सभा के दौरान मंच पर भाषण दे रहे कन्हैया पर चप्पल फेंका गया। हालांकि चप्पल मंच से टकराकर नीचे गिरा। इस बीच कुछ कार्यकर्ताओं ने आरोपी युवक को पकड़ उसकी पिटाई कर दी। काफी मशक्कत के बाद पुलिस ने युवक को भीड़ से बचाकर हिरासत में ले लिया।
कन्हैया पर हमले में शिवसेना के दो नेता गिरफ्तार
जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष और सीपीआई नेता कन्हैया कुमार पर हमला करने के मामले में शिवसेना के प्रदेश सचिव सहित दो नेताओं को गिरफ्तार किया गया है। इनमें प्रदेश सचिव विक्रमादित्य सिंह और व्यावसायिक प्रमुख संजय प्रसाद शामिल हैं। विक्रमादित्य सिंह को नवादा थाना क्षेत्र के बहिरो, जबकि व्यवसायिक प्रमुख संजय प्रसाद की गिरफ्तारी महादेवा रोड से की गयी। सदर अस्पताल में मेडिकल फिटनेस के बाद दोनों को जेल भेजा जा रहा है। इस मामले में जख्मी एएसआई हीरालाल राय के बयान पर नामजद प्राथमिकी दर्ज की गयी है। इसमें दस नामजद व 15 अज्ञात को आरोपित किया गया है। 
कन्हैया को सुरक्षा मिले : भाकपा
भाकपा राज्य सचिव  सत्य नारायण सिंह ने जे़एऩयू़ छात्रसंघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार पर सुपौल के पास हुए पथराव की निन्दा की है। सरकार से कन्हैया कुमार की सभाओं में कड़ी सुरक्षा देने की मांग की। कहा कि कन्हैया कुमार एऩआऱसी़/सी़ए़ए़ / एऩपी़आर के खिलाफ पटना में आयोजित 29 फरवरी की राज्य स्तरीय रैली की तैयारी के लिए बिहार दौरे पर हैं। उनकी सभाओं से सत्तापक्ष बौखलाया हुआ है। इसलिए कन्हैया पर हमला तेज हो गया है।
Share To:

Post A Comment: