बेगूसराय : कोरोना के संक्रमण की रोकथाम के उद्देश्य से अभी जिले में कुल 3,460 लोगों को क्वॉरेंटीन में रखा गया है. 15 लोगों को आोइसोलेशन वार्ड में रखा गया है. वहीं दो संदिग्ध कोरोना संक्रमण मरीज की जांच रिपोर्ट निगेटिव आया है. उक्त बातें शुक्रवार को जिलाधिकारी अरविंद कुमार वर्मा कार्यालय कक्ष में पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहीं.उन्होंने विभिन्न सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर जिले में दो व्यक्तियों के कोरोना वायरस के संक्रमण से मृत्यु की खबर का खंडन करते हुए कहा कि इस संबंध में तत्काल किसी निष्कर्ष पर पहुंचना उचित नहीं है.
गौरतलब है कि दोनों व्यक्तियों की मृत्यु के बाद उसके कोरोना वायरस से संक्रमित होने अथवा नहीं होने की जानकारी प्राप्त करने के लिए आवश्यक सैंपल को जांच के लिए पटना भेजा गया है. जांच रिपोर्ट के बाद ही पता चल पायेगा कि दोनों मृतक कोरोना पॉजीटिव थे अथवा नहीं. उन्होंने बताया कि दोनों परिवार के सदस्यों को क्वॉरेंटीन में रखा गया है. इससे पंचायत के लोगों को पैनिक अथवा डरने की आवश्यकता नहीं है. जिला प्रशासन सभी आवश्यक कार्य कर रही है. जिला पदाधिकारी ने बताया कि बाहर से आने वाले सभी लोगों की लगातार मॉनीटरिंग आशा कार्यकर्ता के द्वारा की जा रही है.

बाहर से आये लोगों को होम क्वॉरेंटीन में रहना आवश्यक

जिला पदाधिकारी ने बताया कि जो भी लोग बाहर से आये हैं उनकी सूची तैयार की गयी है. उन सबों के घर पर आशा कार्यकर्ता प्रतिदिन स्थितियों का जायजा ले रही है. वैसे व्यक्ति जो बाहर से आये हैं और उनका नाम इन सूची में नहीं है. वो अपना नाम निश्चित रूप से सूची में डलवा दें. और वैसे सभी व्यक्ति 14 दिनों की होम क्वॉरेंटीन में जरूर रहे. हो सके तो ये एक अलग कमरे में रहें. जिला पदाधिकारी ने बताया कि होम क्वॉरेंटीन सिर्फ वैसे व्यक्तियों के लिए है जिनमें कोरोना के कोई -कोई सिमटम नहीं है. सिमटम वाले व्यक्ति की सूचना तुरंत बीडीओ अथवा कंट्रोल नंबर पर दें.

जल्द शुरू होगी आपात राहत स्किम

जिला पदाधिकारी ने बताया कि कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के उद्देश्य जिले में सभी प्रकार के एहतियात बरते जा रहे हैं. वैसे लोग जो गृहविहीन हैं उनके लिए जल्द ही आपात राहत स्कीम शहरी क्षेत्र में शुरू की जायेगी. जहां उनके लिए भोजन व ठहरने की व्यवस्था रहेगी. उन्होंने बताया कि जिले में खाद्य व मेडिसिन की कमी न हो इसके लिए व्यवसायियों के साथ बैठक की गयी है. जिला पदाधिकारी ने कुछ राशन दुकानदारों से अपील किया कि आप होम डिलिवरी की सुविधा शुरू करें. वहीं ठेला पर सब्जी विक्रेताओं से भी अपील किया कि आप एक जगह पर रहकर सब्जी बेचने के बजाय मुहल्ले-मुहल्ले जाकर बेचे.
Share To:

Post A Comment: