वृंदावन: दिल्ली के निजामुद्दीन तबलीगी जमात में शामिल 51 लोग पकड़े गए हैं. सभी लोगों को वृन्दावन स्थित  अग्रसेन आश्रम में क्वॉरेंटाइन किया गया है. पकड़े गए लोगों में आगरा के 14 और शामली के 7 और मथुरा 1 शामिल हैं. ये सभी लोग जनपद की अगल-अलग मस्जिदों में छुपे हुए थे. ओल की मस्जिद 30, सुखदेव नगर से 14 लोग हिरासत में लिए गए हैं. मथुरा पुलिस और एलआईयू टीम ने की कार्रवाई की है. 
इस मरकज में यूपी के 19 जिलों बहराइच, गोंडा, बलरामपुर, गाजियाबाद, प्रयागराज, भदोही, लखनऊ, सहारनपुर, मुजफ्फरनगर, बाराबंकी, मेरठ, बिजनौर, आगरा, वाराणसी, हापुड़, मथुरा, शामली और सीतापुर के 157 लोग निजामुद्दीन मरकज में ठरहे थे. इस लिस्ट में मुजफ्फरनगर के सर्वाधिक 28 लोग शामिल हैं, जबकि राजधानी लखनऊ के 20 लोगों ने भी इस धार्मिक आयोजन में शिरकत किया था. इनमें से 51 लोग पकड़े गए हैं. 
आपको बता दें कि निजामुद्दीन का यह मरकज इस्लामी शिक्षा का दुनिया में सबसे बड़ा केंद्र है. यहां कई देशों के लोग आते रहते हैं. मरकज से कुछ ही दूर सूफी संत हजरत निजामुद्दीन औलिया की दरगाह है. तबलीगी जमात के मरकज में 1 से 15 मार्च तक 5 हजार से ज्यादा लोग आए थे. इनमें इंडोनेशिया, मलेशिया और थाईलैंड के लोग भी शामिल थे.

Share To:

Post A Comment: