बिहार पुलिस सिपाही बहाली के दूसरे चरण की परीक्षा आज संपन्न हो गई। करीब 6 लाख अभ्यर्थी इस परीक्षा में शामिल हुए। बिहार के औरंगाबाद, नालंदा और भागलपुर जिले में परीक्षा के दौरान नकल करते कई परीक्षार्थी पकड़े गए हैं। पूरे राज्य में करीब 448 परीक्षा केन्द्र बनाए गए थे। 
MTV NEWS अभ्यर्थियों की बड़ी तादाद को देखते हुए परीक्षा केन्द्रों के ईद-गिर्द सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए थे। प्रमुख रेलवे स्टेशनों के अलावा बस स्टैंड के आसपास अतिरिक्त पुलिस बल को तैनात किया गया। होली को लेकर भीड़ के मद्देनजर बीएमपी की 20 कंपनियां जिला और रेल पुलिस को उपलब्ध कराई गई। 
12 जनवरी को हुई पहले चरण की परीक्षा में आवाजाही को लेकर हुई दिक्कतों के दौरान अभ्यर्थियों ने काफी हंगामा किया था। इसी को देखते हुए पुलिस ने सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए। सिपाही के 11880 पदों के लिए पहली लिखित परीक्षा 12 जनवरी को हुई थी। दूसरे चरण की 20 जनवरी की परीक्षा स्थागित कर दी गई थी। यही परीक्षा आज 8 मार्च को हुई है। 
नालंदा: सिपाही भर्ती परीक्षा में शहर के 2 केन्द्रों से 38 नकलची पकड़े गए। आरपीएस स्कूल से डीएम ने पहली पाली में 16 तो दूसरी में 15 को पकड़ा। जबकि सदर आलम सेकेंडरी स्कूल से 7 नकलचियों के पकड़े जाने की सूचना है। दोनों पालियों को मिलाकर 1,699 अभ्यर्थियों ने परीक्षा में भाग नहीं लिया। पहली पाली में 858 तो दूसरी में 841 ने परीक्षा छोड़ दी।
औरंगाबाद: सिपाही भर्ती परीक्षा के दौरान दो परीक्षार्थी पकड़े, एक दूसरे के स्थान पर परीक्षा दे रहा था, दूसरा ब्लूट्रूथ से नकल कर रहा था। 

भागलपुर: सिपाही भर्ती की परीक्षा दे रहा एमबीबीएस फर्स्ट इयर का छात्र गिरफ्तार, कृष्ण कुमार के बदले दे रहा था परीक्षा, 50 हजार में हुआ था सौदा, पीएमसीएच के छात्र गौरव और कृष्ण कुमार खगड़िया जिले के एक गांव के रहने वाले हैं।
Share To:

Post A Comment: