उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में कोरोना जांच करने गई मेडिकल टीम पर हुए हमले के मामले में 17 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. इस मामले में एक एफआईआर दर्ज हुई है. पुलिस का कहना है कि ड्रोन कैमरों की मदद से पकड़े गए लोगों की पहचान की गई थी. घटनास्थल के पास महिलाएं और पुरुष छत से पथराव करते देखे गए थे.
योगी आदित्यनाथ ने पूरे घटनाक्रम पर सख्त नाराजगी जताई है. सीएम ने आरोपियों के खिलाफ राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) लगाए जाने के आदेश दिए हैं. सीएम के आदेश के अनुसार, नुकसान की भरपाई भी आरोपियों से की जाएगी.
बता दें कि मुरादाबाद में स्वास्थ्यकर्मियों पर नवाबपुर इलाके के लोगों ने तब पथराव कर दिया जब मेडिकल टीम दो कोरोना संदिग्ध मरीजों को लेने गई थी.
मेरठ में हुआ था हमला
हाल ही में मेरठ में मस्जिद के इमाम समेत 4 लोगों ने अधिकारियों की टीम पर हमला कर दिया था. दरअसल, यहां कुछ जमाती आए थे. वे दारीवाली मस्जिद में ठहरे थे. उसमें से एक की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी. इसके बाद अधिकारी पुलिस बल के साथ मस्जिद सील करने गए थे.
औरंगाबाद में 44 गिरफ्तार
बिहार के औरंगाबाद में स्वास्थ्यकर्मियों और पुलिस पर हमला करने के मामले में बड़ी कार्रवाई हुई. पुलिस ने इस मामले में 44 लोगों को गिरफ्तार किया. बुधवार को ग्रामीणों ने स्वास्थ्य विभाग की टीम और पुलिस पर हमला किया था. डॉक्टर और स्वास्थ्यकर्मियों को पीटा गया था. किसी तरह मेडिकल टीम जान बचाकर भागी थी.

Share To:

Post A Comment: