बेगूसराय। जिले की सभी पंचायतों में एक-एक सरकारी स्कूल को क्वारंटाइन सेंटर बनाया गया है। फिलहाल 71 स्कूल क्वारंटाइन सेंटर में 864 व्यक्तियों को रखा गया है। इन सभी लोगों को 14 दिनों के क्वारंटाइन में रखने की व्यवस्था की गई है। यह जानकारी डीएम अरविद कुमार वर्मा ने दी। उन्होंने कहा कि सभी बीडीओ एवं सीओ को स्कूल क्वारंटाइन सेंटर में रह रहे लोगों को आपदा प्रबंधन विभाग के निर्देश के आलोक में भोजन उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है।
11313 व्यक्ति चिह्नित : डीएम के अनुसार जिले में विगत 15 दिनों में राज्य के बाहर से आए हुए कुल 11 हजार 313 व्यक्तियों को चिन्हित किया गया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान में 19 व्यक्ति को सदर अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में तथा 5 व्यक्ति को अग्रसेन मातृ सेवा सदन स्थापित आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया गया है। उन्होंने कहा कि विदेश से आए सभी व्यक्तियों का सैंपल लेकर जांच के लिए पटना भेजा जा रहा है। जानकारी दी कि जिले से अब तक 66 सैंपल जांच के लिए पटना भेजा गया है। कोरोना वायरस से संक्रमित एक व्यक्ति का इलाज पटना में चल रहा है तथा पीड़ित व्यक्ति से संबंधित क्षेत्र को पूर्णत: लॉकडाउन करते हुए एक्टिव सर्विलांस एवं सैनिटेशन किया जा रहा है।
चक्षु एप से अनुश्रवण शुरू : जिले में कोरोना वायरस के संक्रमण की रोकथाम के उद्देश्य से आपदा प्रबंधन विभाग द्वारा विकसित चक्षु एप के माध्यम से क्वारंटाइन में रह रहे लोगों का अनुश्रवण शुरू कर दिया गया है। डीएम ने कहा कि होम क्वारंटाइन में रखे गए सभी व्यक्तियों की स्वास्थ्य व अन्य जानकारियां इस ऐप के माध्यम से दर्ज की जा रही है। ताकि आवश्यकता अनुसार कदम उठाया जा सके। उल्लेखनीय है कि चक्षु एप पर अभी तक होम क्वारंटाइन में रह रहे 7 हजार 59 व्यक्तियों की इंट्री की गई है। जिसमें से 3 हजार 693 व्यक्ति का एप के माध्यम से अनुश्रवण किया जा रहा है।
अपनाएं शारीरिक दूरी : फसल कटनी एवं दौनी को लेकर डीएम ने किसानों से यथासंभव सावधानी अपनाने तथा खेत में काम करते वक्त शारीरिक दूरी अपनाने की अपील डीएम ने की है। कृषि कार्य के दौरान उपयोगी यंत्रों व सामानों साफ-सफाई तथा भोजन के उपयोग में लाए जाने वाले बर्तनों की सफाई सुनिश्चित रखने की अपील भी की। गेहूं फसल कटनी के लिए रीपर कटर रस्सी की अनुपलब्धता पर संज्ञान लेते हुए डीएम ने जिला आपूर्ति पदाधिकारी एवं जिला कृषि पदाधिकारी को रीपर कटर रस्सी की उपलब्धता सुनिश्चित करने के लिए विकल्पों पर कार्य करने का निर्देश दिया।
Share To:

Post A Comment: