पटना. सोमवार को उन पांच मरीजों को अस्पताल से एक साथ छुट्टी दे दी गई जिनकी जांच रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव (Corona positive) पायी गई थी. इलाज के बाद उनकी दूसरी जांच रिपोर्ट भी निगेटिव आई, जिसके बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई. इसके पहले पटना एम्स  (Patna AIIMS) में भर्ती एक महिला मरीज और एनएमसीएच (NMCH) में तीन मरीज पूरी तरह से स्वस्थ होकर अपने घर लौट चुके हैं. इस तरह बिहार में अब तक 9 मरीजों ने कोरोना वायरस के संक्रमण को मात दे दी है.
सोमवार को पांच मरीजों को मिली छुट्टी
बता दें कि सोमवार 6 अप्रैल को अस्पताल प्रशासन ने सिवान निवासी चार युवकों को एंबुलेंस से उनके घर भिजवाया, जबकि खेमनीचक निवासी शरणम अस्पताल के एक कर्मी को परिजन अपने साथ ले गए. एनएमसीएच के अधीक्षक डॉ निर्मल कुमार सिन्हा के अनुसार इन पांचों मरीजों की रिपोर्ट दो बार नेगेटिव आने के बाद उन्हें 14 दिनों के आइसोलेशन में रहने की सलाह देते हुए अस्पताल से छुट्टी दी गई. हालांकिअभी इन सभी को 14 दिनों तक अपने घरों में ही क्वारेंटाइन रहना होगा.
सफलता दर में बिहार दूसरे नंबर पर
गौरतलब है कि काेराना मरीजाें के इलाज के बाद ठीक हाेने के मामले में बिहार देश के सभी राज्याें में दूसरे नंबर पर है, जबकि छत्तीसगढ़ पहले. प्रदेश में साेमवार तक 32 पाॅजिटिव मरीजों में से 9 पूरी तरह ठीक हुए हैं.  यानी 28 प्रतिशत सफलता मिली. वहीं,  छत्तीसगढ़ में कुल 10 काेराेना मरीजाें में 8 अब तक अस्पताल से डिस्चार्ज हो चुके हैं.
48 घंटे में नहीं मिला कोई भी पॉजिटिव
बता दें कि बीते 48 घंटे में एक भी पॉजिटिव मरीज नहीं मिला है. सोमवार को कुल 755 सैंपल जांच को आए थे. इनमें आरएमआरआई में 395, आईजीआईएमएस में 310 और डीएमसीएच में 50 सैम्पलों की जांच हुई और ये सभी निगेटिव आए. बहरहाल अब भी 22 पॉजिटिव मरीजों का विभिन्न अस्पतालों में इलाज जारी है जबकि एक की मौत हो चुकी है.
Share To:

Post A Comment: