बिहार भाजपा के 70 वर्ष से अधिक उम्र वाले कई वरिष्ठ नेताओं से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फोन कर कुशलक्षेम पूछा। इसमें बिहार से पूर्व मंत्री और पटना यूनिवर्सिटी की प्रोफेसर सुखदा पांडेय के अलावा पार्टी के कई पूर्व विधायक, विधान पार्षद, पूर्व प्रदेश पदाधिकारी से लेकर कार्यकर्ता तक शामिल हैं। उन्‍होंने बिहार के भाजपा नेताओं को पार्टी की रीढ़ बताया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से बात करके बिहार के भाजपा नेता काफी खुश हैं। 
इस संबंध में वरीय भाजपा नेत्री सुखदा पांडेय ने बताया कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने फोन किया था। नंबर अनजाना था। सीधे पूछा, 'क्या आप सुखदा पांडेय बोल रहीं हैं? तो मैंने कहा, हां।' इस पर प्रधानमंत्री ने कहा मैं आपकी पार्टी का कार्यकर्ता नरेंद्र मोदी बोल रहा हूं। आप कैसी हैं। यह सुनकर मेरी खुशी का ठिकाना नहीं रहा।उन्होंने कहा कि आप भाजपा की संस्थापक और जनसंघ के जमाने की पुरानी कार्यकर्ता रही हैं। घर-परिवार के सदस्यों के बारे में पूछा, स्वास्थ्य की जानकारी ली।
पीएम ने कहा कि आप जैसे पुराने कार्यकर्ता पार्टी की रीढ़ हैं। आप लोगों ने पार्टी को मजबूत बनाने में काफी अहम भूमिका निभाई है। पूर्व मंत्री ने बताया कि, पीएम ने कहा कि कोरोना के चलते विश्व संकट में है। अपने देश में कुछ हद तक ठीक है। आप लोग सुरक्षित रहिए और लोगों को भी सुरक्षित रहने के लिए जागरूक कीजिए। इससे पहले प्रधानमंत्री ने पटना के गुरु प्रसाद सिंह, नालंदा के सकलदेव वात्सयायन, मधुबनी के पूर्व विधान पार्षद बालेश्वर भारती, पटना के प्रोफेसर पूर्व विधायक रमाकांत पांडेय, जहानाबाद के पूर्व जिलाध्यक्ष अवधेश कुमार, भाजपा प्रदेश मुख्यालय के पूर्व कार्यालय सचिव सुरेंद्र तिवारी और जहानाबाद के रहने वाले प्रदेश कार्यसमिति के पूर्व सदस्य बीरेंद्र सिंह से बात कर हालचाल जाना।
Share To:

Post A Comment: