रांची जिला प्रशासन के लाख प्रयास के बावजूद राजधानी रांची में लॉकडाउन का सौ प्रतिशत पालन नहीं हो रहा है। सड़कों पर ऐसे लोग आसानी से दिख जाते हैं, जो नियमों की अनदेखी कर फर्राटे से गाड़ियों दौड़ा रहे होते हैं। इसको देखते हुए रांची ट्रैफिक पुलिस लगातार अभियान चलाकर यातायात नियमों का उल्लंघन करने वालों पर सख्ती बरत रही है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि अबतक के लॉकडाउन के दौरान रांची में पुलिस ने करीब एक करोड़ रुपये के चालान काटे हैं।
दो पहिया वाहनों पर ज्यादा सख्ती
पुलिस के मुताबिक 22 मार्च से 13 अप्रैल के बीच तक रांची शहर में कुल 4690 लोग ट्रैफिक नियमों को तोड़ते पकड़े गए। इनमें से ज्यादातर वे लोग हैं, जिनके पास ड्राइविंग लाइसेंस नहीं था या फिर हेलमेट नहीं पहने हुए थे। ट्रैफिक पुलिस की माने तो रांचीवासी लॉकडाउन के साथ-साथ यातायात नियमों की भी अनदेखी कर रहे हैं। लिहाजा पुलिस ऐसे लोगों के साथ सख्ती से पेश आ रही है। चालान काट रही है। पिछले 22 दिनों में करीब एक करोड़ रुपये के चालान काटे गये हैं।
रांची पुलिस के आंकड़ों के मुताबिक, बगैर ड्राइविंग लाइसेंस के बाइक चलाने वालों से सबसे ज्यादा फाइन वसूली गयी है. पुलिस ने 1070 दोपहिया वाहन चालकों को बगैर लाइसेंस के पकड़ा. इनसे 52.33 लाख रुपये फाइन ली गई है. वहीं तीन और चार पहिये वाहनों पर भी सख्ती दिखाई गई. बगैर ड्राइविंग लाइसेंस एवं सीट बेल्ट नहीं लगाने वालों का चालान काटा गया.
Share To:

Post A Comment: