कोराना वायरस के तेजी से फैलते संक्रमण को रोकने के लिए पूरा देश लॉकडाउन पर है. लॉकडाउन को प्रभावी बनाने के लिए पुलिस की टीम पूरी तरह से मुस्तैद है. बावजूद इसके कुछ लोग लगातार लॉकडाउन का उल्लंघन कर रहे हैं. हर दिन उल्लंघन के कई मामले सामने आ रहे हैं. ऐसी स्थिति में पटना समेत सभी जिलों की पुलिस को हेडक्वार्टर की तरफ से लॉकडाउन को और भी सख्त तरीके से लागू कराने का आदेश दे दिया गया है. अगर कोई व्यक्ति लॉकडाउन का उल्लंघन करते हुए पाया गया तो कानून के तहत उसके खिलाफ सख्त कार्रवाई करने का निर्देश दिया गया है.
दरअसल, बुधवार को एडीजी हेडक्वार्टर जितेंद्र कुमार वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए पटना, गया, मुजफ्फरपुर, दरभंगा, भागलपुर के एसएसपी समेत सभी जिलों के एसपी से मुखातिब हुए. अब तक के लॉकडाउन की स्थिति और इस दरम्यान किए गए कामों का रिव्यू किया. अब संभावना 14 अप्रैल के आगे लॉकडाउन के बढ़ने की है. ऐसी स्थिति में जिलों की पुलिस की तैयारियां कैसी है? इसका भी जायजा लिया गया. साथ ही जिले में एक्टिव क्रिमिनल्स की पहचान कर उनकी लिस्ट बनाने का निर्देश दिया गया है.
अफसर और जवानों की शिफ्ट में लगाएं ड्यूटी
एडीजी हेडक्वार्टर ने सारे पुलिस कप्तानों से साफ तौर पर कह दिया है कि लॉकडाउन में किसी प्रकार की शिथिलता नहीं बरती जाए. जिन अफसरों और जवानों को ड्यूटी पर लगाया जा रहा है, वो पूरी तरह से मुस्तैद रहें. किसी प्रकार का रिलैक्शेसन न हो. जरूरत पड़े तो अफसरों और जवानों को शिफ्ट के अनुसार ड्यूटी पर लगाया जाए.
ड्यूटी के दौरान बरतें पूरी सावधानी
पुलिस अफसरों और जवानों को ड्यूटी के दौरान सवाधानी बरतने को भी कहा गया है. मास्क, ग्लब्स और बचाव के सारे सामान उपलब्ध कराने का निर्देश दिया गया है. ड्यूटी के दौरान सोशल डिस्टेंस मेंटेन करते हुए किस तरह से खुद को सावधानी बरतनी है, इसके लिए भी उन्हें ट्रेंड करने को कहा गया है. जिलों के पुलिस हॉस्पिटल में भी आइसोलेशन वार्ड बनाए गए हैं. इस बात की भी जानकारी इस रिव्यू मीटिंग में दी गई है.

Share To:

Post A Comment: