BHAGALPUR:  बीमार महिला हॉस्पिटल में भर्ती थी. इस दौरान तबीयत और बिगड़ गई. अचानक उसका अपेंडिक्स फट गया. जिसके कारण रक्तस्राव होने लगा. महिला को खून की जरूरत पड़ी, लेकिन परिजन लॉकडाउन के कारण नहीं आ पा रहे थे. ऐसे में बिहार के पुलिसकर्मियों ने महिला को अपना खून देकर जान बचाई. यह मामला भागलपुर के मायागंज हॉस्पिटल का है.
थानेदार और चार जवानों ने किया ब्लड डोनेट
बबरगंज थानेदार और चार पुलिसवालों ने ब्लड डोनेट कर मायागंज अस्पताल में भर्ती बांका के समुखिया मोड़ की निवासी सुमन देवी की जान बचाई. महिला को तुरंत सात यूनिट बल्ड की जरूरत थी. लेकिन परिजन नहीं आ पा रहे थे. परेशान पति लोगों से सड़क पर मदद मांग रहा था. इस दौरान पेट्रोलिंग पर निकले बाबरगंज थानेदार ने पूछा किया क्या परेशानी है तो महिला के पति ने बताया कि उसकी पत्नी का ऑपरेशन होने वाला है. परिजन खून देने के लिए नहीं आ पा रहे हैं. इतना पैसा भी नहीं है कि वह खून खरीद सके. जिसके बाद थानेदार पवन कुमार सिंह जवान सिपाही बबलू, शिव शंकर और नीरज को लेकर हॉस्पिटल पहुंचे और 4 यूनिट खून महिला को डोनेट किया. 
महिला के पति ने कहा- आपलोगों के कारण बची जान
महिला के पति ने सभी जवानों प्रति आधार जताया और कहा कि आपलोगों के कारण ही मेरी पत्नी को नई जिंदगी मिली है. आपलोग मेरे लिए भगवान से कम नहीं है. इस मुश्किल घड़ी में आपलोगों ने जान बचाई है. जितने लोग भी इस मदद के बारे में सुने लोग जमकर इन पुलिसकर्मियों की तारीफ की. 
Share To:

Post A Comment: