महाराष्ट्र के पालघर जिले के एक गांव में जूना अखाड़े के दो साधुओं समेत तीन लोगों को पीट-पीटकर हत्या ।
इस घटना ने तो पूरा देश को झकझोर कर रख दिया साथ ही पुरे पुलिस डिपार्टमेंट को कटघरे में लाकर खड़ा कर दिया है पहले तो पुलिस के सामने बड़े-बड़े अपराधी सेंडर करते थे पर अब ऐसा नहीं है अपराधी के सामने पुलिस ही सेंडर करती है।कभी वो समय भी हुआकरता था जब देश भर के और दुनिया भर के प्रताड़ित साधू , संत और हिन्दू समाज के लोगमहाराष्ट्र के उन गौरवशाली योद्धाओं से सुरक्षा पाते थे जिनकी भुजाओं और तलवारोंके दम पर अब तक हिन्दू संस्कृति अपने मूल रूप में बची हुई है. ध्यान देने योग्य हैकि कभी संतो को सम्मान और सुरक्षा देने वाले महाराष्ट्र के पालघर स्थित तलासरीअहमदाबाद हाईवे पर  साधु-संतों कीगाड़ी पर कुछ संदिग्ध लोगों ने भीषण और सोच समझ कर ऐसा हमला किया कि उसमे दो संतोकी हत्या हो गई और उन्हें ले जा रहा ड्राइवर भी उसी हमले में मारा गया है.
by sushil kumar singh
Share To:

Post A Comment: