कोरोना संकट के कारण लगाए गए लॉकडाउन की कामयाबी के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ग्रामीणों की तारीफ की. ई-ग्राम स्वराज पोर्टल-मोबाइल ऐप और स्वामित्व योजना की शुरुआत करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा कि लॉकडाउन के मौके पर गांव वालों ने सोशल डिस्टेंसिंग नहीं बल्कि 'दो गज दूरी' का संदेश दिया, जिसने कमाल कर दिया.
पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, 'इस कोरोना संकट ने दिखा दिया है कि देश के गांवों में रहने वाले लोगों ने इस दौरान अपने संस्कारों-अपनी परंपराओं की शिक्षा के दर्शन कराए हैं. गांवों से जो अपडेट्स आ रहा है, वो बड़े-बड़े विद्वानों के लिए भी प्रेरणा देने वाला है. आप सभी ने दुनिया को बहुत सरल शब्दों में मंत्र दिया है.'
ग्रामीणों की तारीफ करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, 'गांव वालों ने दो गज दूरी का, या कहें दो गज देह की दूरी का मंत्र दिया. इस मंत्र के पालन पर गांवों में बहुत ध्यान दिया जा रहा है. ये आपके ही प्रयास हैं कि आज दुनिया में चर्चा हो रही है कि कोरोना को भारत ने किस तरह जवाब दिया है.'
देश के लोगों की तारीफ करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, 'इतना बड़ा संकट आया, इतनी बड़ी वैश्विक महामारी आई, लेकिन इन 2-3 महीनों में हमने ये भी देखा है कि भारत का नागरिक, सीमित संसाधनों के बीच अनेक कठिनाइयों के सामने झुकने के बजाय, उनसे टकरा रहा है, लोहा ले रहा है.'
लोगों से अपील करते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कहा, 'ये सही है कि रुकावटें आ रही हैं, परेशानी हो रही है, लेकिन संकल्प का सामर्थ्य दिखाते हुए, नई ऊर्जा के साथ आगे बढ़ते हुए, नए-नए तरीके खोजते हुए, देश को बचाने का और देश को आगे बढ़ाने का काम भी निरंतर जारी है.
Share To:

Post A Comment: