सिवानः- जिले के रघुनाथपुर प्रखंड मुख्यालय समेत ग्रामीण इलाके में रविवार को सुबह 4 बजे से ही हो रहे तेज बारिश के कारण हजारों किसानों की फसल बारिश में बर्बाद हो रहे है। जिससे स्थानीय किसानों की चेहरे पर मायूसी छाई हुई है। जैसे ही सुबह आकाश में बादल से बारिश के रंग देखने के साथ हैं किसानों के चेहरे पर चिंता की लकीर दिखने लगी उनके खेतों में तैयार फसल एवं कटाई कर घर पर रखा गया गेहूं की बुझे एवं पधारे भीग गई है जिस कारण फसल को बर्बाद होने का डर किसानों के सताने लगा है।
शायद पत्थर ना गिरे गिरे अगर पत्थर गिरी होती तो किसानों को भी भारी नुकसान उठाना पड़ता वही पंजवार गांव निवासी किसान सत्येंद्र सिंह ने बताया कि प्रखंड का पंजवार गांव में कोना कोरोना वायरस का संक्रमित मरीज पाए जाने के बाद कमिटमेंट जोन घोषित होने के कारण किसानों की फसल सही समय पर नहीं कट पाई है जिस कारण किसानों के समक्ष समस्याएं उत्पन्न हो रही है वहीं उन्होंने कहा कि जिला मस्तानी प्रशासन द्वारा अपने अस्तर से फसल कटवाने के प्रयास किया जा रहा है मगर फसल की कटाई में धीमी गति होने के कारण किसानों को भारी नुकसान उठाना पड़ रहा है।

Share To:

Post A Comment: