देशभर में बढ़े लॉकडाउन की तारीख का असर बिहार बोर्ड मैट्रिक के मूल्यांकन कार्य पर भी पड़ा है. बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने लॉकडाउन को देखते हुए इससे पहले मैट्रिक परीक्षा के बचे हुए कॉपियों के मूल्यांकन कार्य को 14 अप्रैल तक स्थगित किया था. लेकिन अब लॉकडाउन को फिर से बढ़ा दिया गया है तो ऐसे में बिहार बोर्ड के अध्यक्ष आनंद किशोर ने आज बताया कि कोरोना महामारी के कारण लागू लॉकडाउन की स्थिति में समिति द्वारा वार्षिक माध्यमिक परीक्षा, 2020 की उत्तरपुस्तिकाओं का मूल्यांकन कार्य 03 मई, 2020 तक स्थगित रखने का निर्णय लिया गया है. बोर्ड के इस निर्णय के साथ मैट्रिक परीक्षार्थियों का इंतजार भी लम्बा होता जा रहा है. अगर 3 मई को लॉकडाउन खत्म होता है तो उम्मीद है की एक सप्ताह के अंदर ही परीक्षा परिणाम जारी कर दिया जाय क्योंकि 90 फीसदी से अधिक कॉपी की जांच हो चुकी है बांकी बचे कॉपियों की जांच में अधिकतम 3 से चार दिन लगने के अनुमान है. वहीं सभी मूल्यांकन केंद्र से ही परीक्षार्थियों के प्राप्तांक सिस्टम में अपडेट किया जा रहा है ऐसे में लॉकडाउन खत्म होते ही एक सप्ताह के भीतर परीक्षा परिणाम सामने आ सकते हैं.
Share To:

Post A Comment: