नई दिल्ली। पाकिस्तान की बदनाम खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) भारत के खिलाफ बड़ी साजिश में जुटी है। वह नेपाल रूट के ज़रिए भारत मे कोरोना महामारी फैलाने की कोशिश कर रही है।आईएसआई (ISI) ने इसके वास्ते नेपाल में रहने वाला एक भारतीय मुसलमान जालिम मुखिया को चुना है। यह आदमी नेपाल के रास्ते कोरोना संदिग्धों को भारत भेज रहा है।
नेपाल बॉर्डर पर तैनात SSB ने बिहार के पश्चिमी चंपारण के डीएम और एसएसपी को इस आशय की चिट्ठी लिखी है। इस चिट्ठी में लिखा है कि जालिम मुखिया नाम का यह हथियार तस्कर भारत मे 40 से 50 कोरोना संदिग्ध मरीजों को भेज चुका है। SSB की 47वी वाहिनी बटालियन पनटोका रामगढ़वा ने इस सिलसिले में जानकारी दी है।

जालिम मुखिया भारत नेपाल से अवैध हथियार की सप्लाई में शामिल रहा है। वह जाली विदेशी करेंसी की तस्करी भी करता आया है। SSB की चिट्ठी में लिखा है कि उसने करीब 200 लोगों को भारत मे महामारी फैलाने के लिए इस्तेमाल करने के मकसद से मस्जिदों में छिपा रखा है।
ये दूसरे इस्लामिक मुल्कों में काम करने वाले भारतीय मुसलमान हैं। इसमे 5 पाकिस्तान के नागरिक भी हैं। इस जानकारी के सामने आने के साथ ही खुफिया एजेंसियां अलर्ट हो गईं हैं।

Share To:

Post A Comment: