दुनियाभर में मचे कोरोना वायरस (Corona virus) के कोहराम के बीच देशभर में चल रहे 21 दिन के लॉकडाउन के दौरान किसानों के लिए मोदी सरकार ने छूट प्रदान की है। जिसमें सरकार ने खेती से जुड़े कई कामों को करने के लिए मंजूरी दी है। इसके अलावा मंडियों और खरीद एजेंसियों को भी लॉकडाउन में छूट रहेगी।
केंद्र सरकार ने कृषि से जुड़े काम और कृषि मशीनरी (ट्रैक्टर और अन्य कृषि उपकरण) को ले जाने और मंडियों व खरीद एजेंसियों को भी लॉकडाउन में छूट दी है, क्‍योंकि रबी फसलों की कटाई अब शुरू होने वाली है। किसानों को इस दौरान किसी प्रकार की समस्याओं का सामना ना करना पड़े। इसलिए यह फैसला लिया गया है।
इसके अलावा सरकार ने कृषि श्रमिकों, उर्वरकों, कीटनाशकों और बीजों की विनिर्माण एवं पैकेजिंग करने वाली इकाइयों को भी लॉकडाउन से छूट दी है। इसमें कृषि यंत्रों और खेती के कामकाज वाली मशीनरी के कस्टम हायरिंग केंद्रों को भी लॉकडाउन  अवधि के दौरान काम करने की अनुमति दी गई है।
साथ ही सरकार ने इस दौरान कोरोना से बचाव के लिए सोशल डिस्टेंसिंग के पालन की भी अपील की है। इसके अलावा फसल अवशेष को खेत में नहीं जलाना है, बल्कि उसका उचित प्रबंधन करना है। इस बाबत सभी संबंधित अधिकारियों को निर्देश जारी किए गए हैं। 
Share To:

Post A Comment: