भोपाल. मध्य प्रदेश में 14 अप्रैल के बाद भी लॉकडाउन (Lockdown) जारी रह सकता है. सीएम शिवराज सिंह ने मंगलवार को फिर से लॉकडाउन की अवधि बढ़ाने के संकेत दिए हैं. पूरे प्रदेश में खासतौर से इंदौर और भोपाल में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए इसपर फैसला लिया जा सकता है. सीएम ने कहा लोगों की ज़िंदगी ज़्यादा ज़रूरी है.
सीएम शिवराज सिंह ने कोरोना के प्रदेश में हालात को देखते हुए कहा कि सबसे कीमती लोगों की ज़िंदगी है. उसे बचाना हमारी प्राथमिकता है. प्रदेश के बिगड़ते आर्थिक हालात पर शिवराज ने कहा कि अर्थव्यवस्था तो बाद में भी खड़ी की जा सकती है. उन्होंने कहा अगर जरूरत पड़ी तो लॉकडाउन आगे भी बढ़ाया जा सकता है. फैसला उस वक्त के हालात देखकर लिया जाएगा. लोगों की ज़िंदगी चली गयी तो वापस कैसे लाएंगे? सीएम ने संकेत दिए कि कुछ शहरों में सख्ती और और कुछ में राहत के साथ लॉकडाउन जारी रह सकता है.
सोमवार को मिले थे संकेत
मध्य प्रदेश में लॉकडाउन की अवधि बढ़ने के संकेत पहले ही मिलने लगे थे. सीएम ने सोमवार को भोपाल में 15 अप्रैल से पूरे प्रदेश में रबी फसल की समर्थन मूल्य पर खरीदी का ऐलान किया था, लेकिन इंदौर, भोपाल और उज्जैन को इससे अलग रखा था. सीएम ने कहा था कि भोपाल, इंदौर और उज्जैन में 15 अप्रैल से गेहूं की खरीद शुरू नहीं होगी. इससे अनुमान लगाया जाने लगा था कि यहां फिलहाल लॉकडाउन खत्म नहीं होगा.
इंदौर-भोपाल के हालात पर नज़र
इंदौर और भोपाल में कोरोना के हालात चिंताजनक बने हुए हैं. यहां मरीज़ों की तादाद बढ़ रही है. MP में अब तक कोरोना के 272 केस आ चुके हैं. इनमें से 20 की मौत और 19 मरीज़ स्वस्थ होकर अपने घर लौट गए हैं. भोपाल में स्वास्थ्य और पुलिस विभाग के अफसर और कर्मचारी भी इसकी चपेट में हैं. इंदौर में मरीज़ों की तादाद 151 हो चुकी है, इनमें से 13 की मौत हो गयी. वहीं, भोपाल में ये आंकड़ा 74 है. इनमें से एक पेशेंट की रविवार आधी रात को मौत हो गयी थी.
Share To:

Post A Comment: