हंदवाड़ा. जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के कुपवाड़ा जिले के हंदवाड़ा (Handwara) में सोमवार को फिर से आतंकी हमला हुआ, जिसमें CRPF के 3 जवान शहीद हो गए. हालांकि सुरक्षाबलों ने अचानक हुई गोलीबारी का जवाब दिया और एक आतंकी को मार गिराया. सिर्फ दो दिन पहले शनिवार को हंदवाड़ा में ही हुए आतंकी मुठभेड़ (Terrorist Encounter) के बाद यह हमला हुआ है. इसमें शहीद हुए दो अधिकारियों सहित 5 जवानों के बाद आज यहां के क्रालगुंड इलाके के वंगम में सुरक्षा बलों (Security Forces) के एक काफिले को घेर आतंकियों ने गोलीबारी की.
आतंकियों (Terrorists) ने सुरक्षा बलों पर वंगम स्टॉप के पास गोलीबारी की, जहां पर संयुक्त सुरक्षा बलों (joint security forces) ने नाका बनाया हुआ था. सूत्रों ने यह भी बताया कि इस हमले में कुछ सुरक्षा कर्मी घायल हुए थे, जिसमें से तीन ने बाद में घावों के चलते दम तोड़ दिया.
सीआरपीएफ के सूत्रों ने बताया है कि सेब के बाग में एक आतंकी का शव पाया गया है, जहां पर यह हमला हुआ था. उन्होंने यह भी बताया कि घटनास्थल पर मौजूद वरिष्ठ अधिकारी उसकी पहचान के काम में लगे हैं. साथ ही 6 नागरिकों को भी इस हमले में चोट आई हैं. कुछ नागरिकों को हंदवाड़ा हॉस्पिटल ले जाया गया है.
हमलावर आतंकियों की धरपकड़ के लिए इलाके की घेराबंदी की गई
इस हमले में 7 अन्य सुरक्षा कर्मियों के घायल होने की सूचना भी है. सूत्रों ने यह भी बताया है कि हमलावरों को पकड़ने के लिए इलाके की घेराबंदी (cordoned off) कर ली गई है.
इससे पहले सोमवार को ही भारत के सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणे (Indian Army Chief Naravane) ने कहा है कि हंदवाड़ा (Handwara) में आतंकियों (Terrorists) से नागरिकों (Civilians) की जान बचाने के दौरान जीवन का बलिदान कर देने वाले पांचों सुरक्षा कर्मियों (Security Personnel) पर देश को गर्व है. उन्होंने कर्नल आशुतोष शर्मा की तारीफ करते हुए कहा कि वो सामने से गए ताकि नागरिकों को नुकसान न हो.
उन्होंने यह भी कहा, “मैं अपनी सेना (Army) और जम्मू-कश्मीर (Jammu-Kashmir) के जबरदस्त बहादुरों के प्रति अपनी हार्दिक संवेदना और आभार व्यक्त करना चाहता हूं.”
Share To:

Post A Comment: