कोरोना काल मे पुलिस का दूसरा चेहरा आया सामने।
कड़ी में दारू के समलगरो के साथ मिलके बेचा दारू।
कोरोना काल मे जहाँ एक तरफ पुलिस और मेडिकल कर्मियों के साथ कोरोना वारियर पे फूलो की वर्षा कर रही है।वही कड़ी पुलिस के द्वारा किए गए इस काम से समग्र कड़ी पुलिस का सिर शर्म से झुक गया है। खुद कड़ी पुलिस स्टेसन के

पुलिस अधिकारी और दारू के स्मगलर द्वारा पुलिस स्टेशन से ही दारू का धंधा चालू कर दिया था जिसकी खबर गांधीनगर पुलिस को मिलते ही डीआईजी के सूचना के अधार पर गांधीनगर के पुलीस के अचानक से किये गए रेड से सामग्र पुलिस बेड़े में हलचल मच गई है। तो वही दूसरी तरफ पुलिस ने अपनी करतूत को छुपाने के लिए समग्र दारू के जत्थे को छुपने के लिए कड़ी के नजदीक में नरसिहपुरा नर्मदा पानी के केनाल में दारू के जत्थे को फेकने की बात सामने आई है। इस बात के मिलते ही पुलिस गांधीनगर और फायर ब्रिगेड के लोगो के द्वारा नर्मदा केनाल में खोजबीन चालु की गई है।

कड़ी पुलिस स्टेशन के PI देसाई और PSI पटेल दोनों ही भूगर्भ में जा चुके है,और उनसे कोई संपर्क नही हो पा रहा है।
गांधीनगर SP ममयूरभाई चावड़ा ने बताया कि विदेसी दारू के बेचने के आरोप कीआरोप जो पुलिस पे लगी है उसपे कार्यवाही की जा रही है। साथ ही मीली जानकारी के अनुसार केनाल से विदेशी दारू का मुद्दा माल भी जप्त किया जा चुका है।

रिपोर्टर शशि भूषण कुमार
Share To:

Post A Comment: