गांधीनगर के कलोल तहसील में दारू के स्मगलरो की बढ़ती प्रवृति पर पुलिस के द्वारा लगाम लगाई, दारू के ब्यूटलेगर को पकड़ने के बाद उनके पास से 24 बोतल विदेसी दारू के साथ रेड करके देसी दारू बनाने का सामान और कच्चे माल की भी बरामदगी की है।
कलोल पुलिस को मिले जानकारी के अनुसार खोरजाडाभी गांवमें दारू का व्यपार हो रहा है उस जानकारी पे पुलिस के द्वारा किये गए रेड में खोरजाडाभी गांव में दारू बेचने वाले जयदीपसिह भरतसिंह वाघेला (रहवासी खोरजाडाभी) के पास से विदेसी दारू की 24 बोतल कीमत 24000 रुपए के साथ अरेस्ट कर लिया साथ ही सांतेज पुलिस को मिले खुफिया जानकारी के अनुसार कलोल के शेरिसा गांव में पुलिस रेड करके भरतजी वजाजी ठाकोर को शेरिसा गांव में नर्मदा केनाल के एक खेत से पकड़ लिया साथ ही देसी दारू को बनाने वाले कच्चे समान में एक लोहे के ड्राम में 200 लीटर तथा प्लास्टिक के केरवे में 70 लीटर दारू कीमत 1400रू 1000 लीटर ठंडा वाश कीमत 2000 रू टोटल 3800 रु का माल जप्त किया है पुलिस के रेड में फरार हुए स्मगलर भरतजी ठाकोर के ऊपर गुनाहीत मामला दर्ज करके उसे पकड़ने की प्रक्रिया तेज कर दी है। साथ ही सिटी पुलिस ने सिल्वर होटल के पास एक ऑटो रिक्शा में से भी कुछ विदेसी दारू की खेप पकड़ी है और ऑटो के के साथ अष्विन कानजी रावल और मुस्तफा उर्फ राजू पेंटर यूसुफ मंसूरी नाम के युवक को भी पकड़ा है और फरार हो गए लखन ठाकोर के सामने गुनाहीत मामला दर्ज करके उसे पकड़ने की प्रक्रिया तेज हो गई है। पुलिस ने ऑटो रिक्सा के साथ विदेशी दारू और मोबाइल मिलाके कुल 52000 रु का मुद्दा माल जप्त किया है।

रिपोर्टर शशि भूषण कुमार
Share To:

Post A Comment: