MUZAFFARPUR  : राज्य के पूर्व मंत्री अजीत कुमार ने शुक्रवार को कांटी क्षेत्र के कई गांवों में सामाजिक कार्यकर्ताओं के साथ बैठक कर, उन्हें कोरोना वायरस से सचेत रहने एवं लॉ’क डाउन में फंसे गरी’बों को हर स्तर पर मद’द करने की अपील की है। मौके पर उन्होंने पंचायत स्तर पर 25 युवकों का एक रिलीफ टीम बनाया है। रिली’फ टीम में शामिल युवक कल से ही सामा’जिक स्तर पर रा’हत सामग्री संग्रह कर प्रभा’वित लोगों तक पहुंचाने का कार्य प्रारंभ करेंगे।
प्रखंड के दादर, कपरपुरा एवं कलवारी गांव में आयोजित बैठकों में श्री कुमार ने सरकार पर कि’सानों का अनदे’खी करने का आ’रोप लगाया। उन्होंने कहा कि प्रकृति आ’पदा व लॉ’क  डाउन से जिले के कि’सान – मज’दूर पूरी तरह त्र’स्त हो गए हैं। वही कृषि मंत्री द्वारा बार – बार किसानों को इनपुट स”ब्सिडी देने की बात मीडिया के द्वारा प्रचा’रित की जा रही है।

लेकिन बीते 4 माह के अंदर जिले के एक भी किसान को इनपुट सब्सि’डी का राशि नहीं मिला है। फिलहाल आ’र्थिक तं’गी से परे’शान किसान के सामने खरीफ की खेती चुनौ’ती बन खड़ा है। उन्होंने कहा कि सरकार अब कि’सानों के धै’र्य की परीक्षा न लें, शीघ्र  कृषि इनपुट का तुरंत भुग’तान करें नहीं तो हम किसान के साथ सड़क पर उ’तर सं’घर्ष करेंगे।
उन्होंने प्र’वासी मज’दूरों के लिए कांटी- मड़वन में बनाए गए  क्वारं’टाइन सेंटर के ल’चर स्थिति की च’र्चा करते हुए कहा कि जिलाधिकारी इसे शीघ्र सं’ज्ञान में लेकर  व्यव’स्था दुरु’स्त कराएं ताकि प्रवासी मज’दूरों को कठि’नाई न हो। उन्होंने आम लोगों से भी इस सं’कट की घड़ी में प्रशासन को पूर्ण सह’योग करने का भी अपी’ल किया।
बैठक की अध्यक्षता क्रमशः सोहन सहनी, रामबाबू साह एवं पूर्व मुखिया राज किशोर सहनी ने किया। मौके पर बैठक में शिवजी साह, सरोज कुमार चौधरी, पिंकेश कुमार त्रिपाठी, प्रमोद कुमार चौधरी, अमरेश कुमार, पंकज कुमार, दीपक कुमार साह,  श्याम कुमार साह, मुकेश ठाकुर, टिंकू कुमार, पंकज कुमार, सुनील सहनी, अविनाश कुमार राम, श्याम देव रजक, निखिल कुमार, अरविंद राम, मुकेश कुमार, रंजीत कुमार सहनी आदि लोगों ने अपना अपना विचार व्यक्त किया। इस अवसर पर उन लोगों ने इस विकट परिस्थिति में प्रभावितों को हर संभव मदद करने का भी संकल्प लिया।
में चितरंजन कुमार पाण्डेय आपके साथ
Share To:

Post A Comment: