देश में लॉकडाउन खत्म होने के बाद नीतीश सरकार बड़े फैसले की तरफ आगे बढ़ रही है. राज्य के स्कूलों कोचिंग संस्थानों और अन्य शिक्षण संस्थानों को खोलने की दिशा में नीतीश सरकार ने बड़ी पहल की है. शिक्षा विभाग की तरफ से राज्य के सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को निर्देश दिया गया है कि वह स्कूल कोचिंग और शिक्षण संस्थानों को खोले जाने के संबंध में फीडबैक दें.

शिक्षा विभाग ने सभी जिलों के डीईओ को निर्देश दिया है कि वह पढ़ाई करने वाले छात्र-छात्राओं उनके अभिभावकों शिक्षकों और स्कूल प्रबंधन समिति के सदस्यों से इस बात पर फीडबैक ले कि कोरोना संक्रमण के फैलाव के बीच शिक्षण संस्थान खोले जाएं या नहीं.

सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को कुल 9 बिंदुओं पर परामर्श लेने को कहा गया है.

स्कूल, संस्थान को किस तिथि से खोला जाए.
 कक्षाओं में नामांकन कब से शुरू किया जाए.
स्कूल के संचालन का अवधि क्या हो?
कक्षा का संचालन अधिकतम कितने बच्चों के साथ किया जाए.
कक्षा की अवधि क्या हो ?
-कक्षा में बैठने की व्यवस्था कैसी हो?
प्रार्थना सत्र का संचालन किया जाए या नहीं.
स्कूल में प्रवेश और निकास की व्यवस्था कैसी हो?
स्कूल और कक्षा मे सोशल डिस्टेंसिंग कैसे लागू किया जाए?
Share To:

Post A Comment: