पिछले 5 दिनों में दो रिश्तेदारों को कोरोना से खोने के बाद भी बीते कल की चर्चा नहीं करूंगा।

Faulty policy का परिणाम सब भुगत रहे हैं।आज जान पर बन आयी है।

इसी देश में  South India में medical colleges की कमी नहीं है।वहाँ के सरकारों ने जिला तो दूर Sub Division level पर medical colleges खुलवा दिए।मेडिकल कॉलेज को sufficient patient नहीं मिल रहे।

हमारे बिहार में multi acre campus का outdated शर्त लगाकर medical college खुलने ही नहीं दिया गया।यहाँ के students सैकड़ों करोड़ खर्च कर बिहार से बाहर पढ़ रहे हैं।जापान में बिहार से ज़्यादा भूकंप के chances हैं फिर भी multi storey buildings में medical colleges चल रहे हैं।अपने राज्य के population density को देखकर यहाँ क्यों नहीं चल सकता।

School और University खोलने के लिए भी multi acre campus का शर्त क्यों?

इस logic से तो किसी भी island nation में न कोई स्कूल होगा और न ही कोई college.

USA के लिए best trained health professionals Caribbean Islands से आते हैं।

एक crore रुपया security deposit और 10 लाख रुपये  का form भरने के बाद भी दो वर्षों से University के permission के लिए मेरे मित्र परेशान हैं।

पुश्तैनी संपत्ति पर करोड़ों रुपये का institute जो कि सैकड़ों लोगों को रोज़गार देगा और हज़ारों बच्चों के migration को रोकेगा को timely permission क्यों नहीं दिया जाता।

5 Anaesthetist और 5 ventilator के शर्त को लगाकर बिहार के maximum hospital कोरोना के इलाज देने से बाहर हो गए।ये hospitals कम से कम patient को ऑक्सीजन ,दवा और care तो दे सकते थे।पूरे जिला में भी इतने professionals नहीं हैं जितना का शर्त एक hospital के लिए लगा दिया गया है।

Patna AIIMS में भी वेटिंग 100 से ऊपर है।

किसी को कोसने से जान तो वापस नहीं आएगी कम से कम आने वाले समय में policy पर ध्यान दें।

केरल ने अपने नागरिकों को अच्छी शिक्षा और स्वास्थ्य देकर लायक बना दिया।पूरी दुनिया में सेवा देकर मलयाली केरल को समृद्ध बना रहे हैं।

हमारे यहाँ वहाँ से ज़्यादा युवा हैं,जल है,खेत है,मेहनती लोग हैं अगर हम चाह लें तो बदलाव हो सकता है।

तब तक भोज के समय कोहरा रोपते हैं।

मेरे मित्र के पिता की भी स्थिति नाजुक है।कोई hospital admit नहीं कर रहा।माँ अब आपके हाथ में ही सब कुछ है।दया करो।

शिव प्रकाश भारद्वाज
भारद्वाज गुरुकुल
बेगूसराय
Share To:

Post A Comment: