*हेडिंग लायन सबके दिलों में बसने वाले माही बने रियल हीरो   MTV news रिपोर्टर प्रवीण कुमार

130करोड़ लोगों की उम्मीदों का बोझ तीनो फॉरमेट में कप्तानी कर के ढोते रहे जिसकी छांव में पल रहे विराट और रोहित जैसे खिलाड़ी आज विश्व मे अपना लोहा मनवा रहे है कप्तानी के बोझ ने समय से पहले बूढा भी कर दिया लोगों ने इसका भी मज़ाक बनाया जिस डिविलिर्स की तारीफ करते और धोनी को कोसते हुए तुम लोग थकते नही नहीं उसी ने अभी हाल में धोनी के रिटायरमेंट के बारे मे पूछे जाने पर कहा मैं धोनी को तब भी अपनी टीम का कप्तान बनाउँगा जब वो 80 वर्ष के होंगे भूलिए मत जनाब भारत ने कितने विकेटकीपर बैट्समैन की तलाश की राहुल द्रविड़ उथप्पा कार्तिक नमन ओझा साहा सबको ट्राई किया पर 15 सालो से विकेट के पीछे हिमालय की तरह जो डटा रहा उसका नाम है 
*महेंद्र सिंह धोनी**महेंद्र सिंह धोनी*
पहली बार नाम सुना जब तो सब हंसी उड़ा रहे थे अरे ये कौन है कहाँ कहाँ से प्लयेर ले आए हैं अभी आउट हो जाएगा देख लेना..2004 भारत बनाम बांग्लादेश धोनी पहली बाल पे रन आउट हो भी जाते है ये पहली बार था जब धोनी ने अपने आलोचकों को पहली और आखिरी बार बोलने का मौका दिया।।उसके बाद पाकिस्तान के खिलाफ पहला शतक श्रीलंका की लंका लगाई 183 मार के और उस मैच में बैट को बन्दूक बना के गोली चलाने वाला सेलिब्रेशन जब देखा तो हां उस दिन से उनका फैन हो गया फिर क्या 2007 टी-20 वर्ल्ड कप कामनवेल्थ सीरीज में ऑस्ट्रेलिया में जाके नई टीम के beसाथ उसको लगातार 2 फाइनल में हराना, दादा के आखिरी टेस्ट में अंतिम पलो में उनको कप्तानी सौंपना जैसी न जाने कितनी मिसालें,
Share To:

Post A Comment: